CWC 2019: भारतीय टीम की हार के बाद विज्ञापन दरें 50 फीसदी गिरी, दर्शक भी घटे

भारतीय टीम की सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के हाथों हार से स्टार स्पोर्टस को काफी नुकसान हुआ है। एक रिपोर्ट के मुताबिक सभी को भारतीय टीम के फाइनल में पहुंचने की उम्मीद थी। ऐसे में विज्ञापन की दरों को खिताबी मैच के लिए चार से पांच गुना ज्यादा महंगा किया गया था। लेकिन भारत के बाहर होते ही प्रसारणकर्ताओं के ज्यादा मुनाफे के मंसूबों पर पानी फिर गया, क्योंकि दर्शकों की संख्या भी घट गई है। विश्व कप के प्रसारण अधिकार स्टार टीवी और उसके डिजिटल मीडिया नेटवर्क हॉटस्टार के पास हैं।

50 फीसदी रेट गिरे : जानकारों के मुताबिक, भारत के विश्व कप से बाहर होने से विज्ञापन की दरों में करीब 50 फीसदी से ज्यादा की गिरावट आई है। पिछले सप्ताह चैनल फाइनल मुकाबले के लिए प्रति सेकंड 30 से 35 लाख रुपये मांग रहे थे, क्योंकि उन्हें भारत के खेलने की उम्मीद थी। लेकिन अब यह रेट प्रति सेकंड 10 से 15 लाख रुपये से भी कम रह गया है।

मुनाफा घटा : भारत के बाहर होने के अलावा विश्व कप के दौरान हुई बारिश से भी चैनल को नुकसान हुआ है। बारिश के कारण करीब चार मैच पूरी तरह से धुल गए। चैनल को विश्व कप से करीब 1,800 करोड़ रुपये कमाई की उम्मीद थी। लेकिन बारिश और भारत की हार के बाद उसे 1,500 से 1,600 करोड़ रुपये ही मिल पाएंगे। इस तरह चैनल को करीब 300 करोड़ रुपये का नुकसान होगा।

हिट रहा सेमीफाइनल :  हालांकि, भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेला गया सेमीफाइनल मैच डिजिटल पर काफी हिट रहा। इस मैच को 1.9 करोड़ दर्शकों ने हॉट स्टार पर देखा। यह संख्या इस साल मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपरकिंग्स के बीच खेले गए आईपीएल फाइनल से ज्यादा है, जिसे 1.86 करोड़ लोगों ने देखा था।

ब्रिटेन में फाइनल का मुफ्त प्रसारण
इंग्लैंड के 27 साल में पहली बार विश्व कप फाइनल में पहुंचने के बाद इस मैच का प्रसारण पूरे देश में निशुल्क किया जाएगा। ब्रिटेन में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का सीधा प्रसारण 2005 से स्काई स्पोर्टस करता है। इंग्लैंड में क्रिकेट विश्व कप के टीवी दर्शकों की संख्या निशुल्क दिखाए गए महिला विश्व कप फुटबॉल के दर्शकों से कम रही। अब चैनल-फोर ने स्काई स्पोर्ट्स के साथ करार किया है जिसके तहत इंग्लैंड के क्रिकेटप्रेमी फाइनल मैच बिना कोई शुल्क दिए देख सकेंगे। इससे खेल की घटती लोकप्रियता को फिर बढ़ने की उम्मीद है।

शराब न मिलने से किवी प्रशंसक दुविधा में
न्यूजीलैंड के प्रशंसक इस बात से निराश हैं कि फाइनल में वह शराब के साथ फाइनल का लुत्फ नहीं उठा पाएंगे। देश भर के स्पोर्ट्स बार को यह अंदाजा ही नहीं था कि उनकी टीम फाइनल में पहुंच जाएगी। वेलिंगटन सिटी काउंसिल की एक प्रवक्ता ने कहा, देर रात तक शराब परोसने का लाइसेंस 20 दिन में मिलता है। यहां किसी ने सोचा नहीं होगा कि हम फाइनल खेलेंगे तो किसी ने लाइसेंस मांगा भी नहीं। मैच रविवार को रात 9.30 पर शुरू होगा और सुबह 5.30 तक चलेगा। स्पोर्ट्स बार को सुबह 4 बजे तक का ही लाइसेंस मिला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *