पुष्पेन्द्र एनकाउंटरः अखिलेश के झांसी पहुंचने से पहले 40 प्रदर्शनकारियों को भेजा गया जेल

पुष्पेन्द्र एनकाउंटर कांड दिनों दिन तूल पकड़ता जा रहा है। मामले की जांच कर रही पुलिस पुष्पेन्द्र की मौत हत्या या एनकाउंटर में हुई की गुत्थी सुलझाने में लगी है।पुष्पेंद्र के एनकाउंटर के खिलाफ प्रदर्शनकारियों की संख्या बढ़ती ही जा रही है। आज गुरुवार को उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी मौके पर पहुंचने वाले हैं। प्रदर्शनकारियों की मांग है कि एनकाउंटर करने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया जाए।

पुलिस के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर काफी संख्या में लोग मोंठ तहसील में धरने पर बैठे थे। प्रदर्शनकारियों में आम चुनावों के दौरान वाराणसी से पीएम मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने की घोषणा के बाद सुर्खियों में आए फौजी तेज बहादुर शामिल हैं। हालात पर नियंत्रण बना रहे इसके लिए पुलिस ने आज गुरुवार को मौके पर बड़ी कार्रवाई करते हुए 40 प्रदर्शनकारियों को जेल भेज दिया है।

40 प्रदर्शनकारियों को जेल भेजने की कार्रवाई अखिलेश यादव के वहां आने से कुछ घंटे पहले की गई। इस कार्रवाई के पीछे प्रशासन ने सुरक्षा व्यवस्था कायम रखने का तर्क दिया है। हिरासत में लिए हुए सभी प्रदर्शनकारियों को झांसी जिला जेल भेज दिया गया है।

बताते चलें कि पुष्पेन्द्र एनकांउटर सवालों के घेरे में है। विगत दिवस फौजी तेज बहादुर झांसी पहुंचा। जहां शाम से फौजी तेजबहादुर समेत 40 ग्रामीण मोंठ तहसील में शांतिपूर्ण ढंग से धरने पर बैठे हुए थे। तेज बहादुर समेत सभी प्रदर्शनकारियों की मांग थी कि पुष्पेन्द्र का एनकाउंटर करने वाले मोंठ थानेदार के खिलाफ हत्या का मुकद्मा दर्ज कर उसे तत्काल गिरफ्तार किया जाये।

अभी धरना चल ही रहा था कि देर रात्रि पुलिस ने सख्ती दिखाते हुए धरना प्रदर्शनकर रहे तेजबहादुर समेत 40 प्रदर्शनकारियों को पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के झांसी पहुंचने से पहले ही गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार किये गये सभी प्रदर्शनकारियों को झांसी जिला जेल भेज दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *