क्या मोदी के जन्म से 450 साल पहले ही लिखा जा चुका था उनका भविष्य

सौगंध मुझे इस मिट्टी की,
मैं देश नहीं मिटने दूंगा,
मैं देश नहीं मिटने दूंगा,
मैं देश नहीं झुकने दूंगा।
मेरा वचन है भारत मां को,
तेरा शीश नहीं झुकने दूंगा,
सौगंध मुझे इस मिट्टी की,
मैं देश नहीं मिटने दूंगा,
मैं देश नहीं मिटने दूंगा,
मैं देश नहीं झुकने दूंगा…

इसी साल फरवरी में राजस्थान के चुरू में एक रैली को संबोधित करते हुए जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ये पंक्तियां पढ़ीं तो देशवासियों के मन में विश्वास ने और गहरी जड़ें जमा लीं। राष्ट्रहित को सर्वोपरि रखने वाले नरेंद्र मोदी को जनता ने एक बार फिर देश का नायकत्व सौंपा। पिछले लोकसभा चुनाव से ज्यादा सीटें उनकी झोली में डालीं। मोदी ने भी आभार जताते हुए कहा कि 130 करोड़ से अधिक हिंदुस्तानियों ने इस फकीर की झोली भर दी। पिछले लोकसभा चुनाव में एक बात की काफी चर्चा थी। वह थी फ्रांस के महान भविष्यवक्ता नास्त्रेदमस (1503-1566) की भविष्यवाणी, जिसका लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कनेक्शन जोड़ा था।

क्‍या कहा था नास्त्रेदमस ने

फ्रेंच कॉलमनिस्ट फ्रैंकोइस गॉटियर के मुताबिक नास्त्रेदमस ने 450 साल पहले भविष्यवाणी की थी कि वर्ष 2014 से 2026 तक भारत का प्रतिनिधित्व एक ऐसा व्यक्ति करेगा, जिसे जनता और बाकी सभी लोग इतना प्यार देंगे कि वह अगले कई वर्षों तक भारत का प्रधानमंत्री रहेगा। वर्ष 2016 में किरन रिजिजू ने एक अमेजिंग फैक्ट्स नाम से एक फेसबुक पोस्ट शेयर की थी, जिसमें गणितीय गणनाओं के जरिये नास्त्रेदमस की बात और भाजपा की विजयी होने की बात को समझाया गया है।

भाजपा की जीत की बात नौ मई को ही कह दी थी

अपने ब्लॉग में नौ मई को लिखे लेख में फ्रैंकोइस गॉटियर ने 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा की जीत की बात कही थी। उन्होंने भाजपा को तीन सौ के आसपास सीटें मिलने की संभावना जताई थी, जोकि सच साबित हुई। दरअसल, 2019 के लोकसभा चुनाव में इस बार मोदी लहर नहीं सुनामी चली, जिसमें विपक्ष बह गया। भाजपा ने अपने दम पर बहुमत का आंकड़ा पार कर लिया है।  भाजपा को 542 में से 303 सीटों पर जीत मिली है।  उधर, कांग्रेस ने 52 सीटों पर दर्ज की है। वहीं, कई राज्यों जैसे दिल्ली, हिमाचल, आंध्र प्रदेश, राजस्थान, मुंबई सहित कई राज्यों में कांग्रेस अपना खाता भी नहीं खोल पाई है।

ये भविष्यवाणी भी की थी

नास्त्रेदमस की कई भविष्यवाणियां सच साबित हुई हैं, जिसमें 9/11 वर्ल्ड ट्रेंड सेंटर पर आतंकी हमले की भविष्यवाणी सबसे महत्वपूर्ण थी, जिसमें कहा गया था कि दो लोहे के पक्षी नई भूमि की दो बड़ी-सी चट्टान से टकराएंगे, जिसके बाद युद्ध होगा। उनके अनुसार इसके बाद से दुनिया में भारी परिवर्तन होंगे। सांस्कृतिक और धार्मिक संघर्ष बढ़ेगा।

2019 को लेकर भी हैं कई भविष्यवाणियां

गौरतलब है कि नास्त्रेदमस की एक और भविष्यवाणी के मुताबिक, इस साल 2019 में कुछ यूरोपीय देश खतरनाक बाढ़ की चपेट में आएंगे। हंगरी, इटली, चेक गणराज्य और ब्रिटेन का नाम शामिल है, जो बाढ़ की चपेट में आएंगे। इसके अलावा, यूरोपीय देश और यूएस ना केवल इमिग्रेशन की समस्या को लेकर जूझेंगे बल्कि इन पर कई आतंकी हमले होने की भी आशंका जताई गई है।

जानिए सबसे रोचक पहलू

कुछ प्रशंसकों और शोधकर्ताओं के मुताबिक, नास्त्रेदमस ने अपनी खुद की मौत के बारे में भी बिल्कुल सटीक भविष्यवाणी की थी। नास्त्रेदमस ने कहा था- ‘मैं बेंच और बिस्तर के नजदीक मृत पाया जाऊंगा। नास्त्रेदमस ने अपनी मौत से ठीक एक रात पहले यह भी बता दिया था कि वह अगली रात जिंदा नहीं होंगे। हुआ भी वही, जब नास्त्रेदमस अगली सुबह अपने बेडरूम में अपनी टेबल पर मृत पाए गए थे। ऐसे में उनकी अपनी खुद की ही मौत के बारे में की गई भविष्यवाणी सच साबित हुई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *